navy

Indian Navy में हेलीकॉप्टर स्ट्रीम में शामिल होने वाली पहली Women Officers- Defence India News

 

भारतीय नौसेना ने हेलीकॉप्टर धारा में दो महिला अधिकारियों के चयन पर ऐतिहासिक निर्णय लिया। भारतीय नौसेना के इतिहास में शामिल हुई दो महिला अधिकारी “सब लेफ्टिनेंट कुमुदिनी त्यागी और सब लेफ्टिनेंट रीति सिंह”, भारतीय नौसेना के हेलीकॉप्टर धारा में।

भारतीय इतिहास में पहली बार, महिला अधिकारियों ने भारतीय नौसेना के हेलीकॉप्टर स्ट्रीम में  “Observers”  (Airborne Tacticians) के रूप में शामिल होने के लिए चयन किया। भारतीय नौसेना में महिलाओं के प्रवेश को तय-विंग वाले विमानों तक ही सीमित रखा गया था जो उड़ान भरते और उतरते थे। इस प्रकार, दो महिला अधिकारी युद्धपोतों से संचालित होने वाली महिला हवाई लड़ाकू विमानों का पहला सेट होंगी।

 

दो अधिकारी, भारतीय नौसेना के 17 अधिकारियों के एक समूह का हिस्सा हैं, जिसमें चार महिला अधिकारी और भारतीय तटरक्षक के तीन अधिकारी शामिल हैं, जिन्हें 21 सितंबर, 2020 के INS गरुड़, कोच्चि, में आयोजित एक समारोह में ऑब्जर्वर के रूप में स्नातक होने पर विंग्स से सम्मानित किया गया था।

 

विंग्स से सम्मानित भारतीय नौसेना के 17 अधिकारियों के समूह में नियमित बैच के 13 अधिकारी और शॉर्ट सर्विस कमीशन बैच की चार महिला अधिकारी शामिल थीं।

 

Major Highlights of Ceremony:

 

• स्नातक समारोह की अध्यक्षता रियर एडमिरल एंटनी जॉर्ज एनएम, वीएसएम, मुख्य कर्मचारी अधिकारी (प्रशिक्षण) ने की, जिन्होंने स्नातक अधिकारियों को पुरस्कार और प्रतिष्ठित पंख प्रदान किए।

• मुख्य अतिथि ने छह अन्य अधिकारियों को भी 'इंस्ट्रक्टर बैज’ से सम्मानित किया, जिनमें भारतीय नौसेना के पांच एक महिला अधिकारी और एक अन्य भारतीय कोस्ट गार्ड शामिल थे, जिन्होंने इस अवसर पर क्वालिफाइड नेविगेशन इंस्ट्रक्टर (QNI) के रूप में स्नातक किया था।

• रियर एडमिरल एंटनी ने इस तथ्य पर प्रकाश डाला कि यह एक ऐतिहासिक अवसर था जिसमें पहली बार महिलाओं को हेलीकॉप्टर संचालन का प्रशिक्षण दिया जा रहा था जो अंततः भारतीय नौसेना के अग्रिम युद्धपोतों में महिलाओं की तैनाती के लिए मार्ग प्रशस्त करेगा।

• 91 वें रेगुलर कोर्स और 22 वें एसएससी ऑब्जर्वर कोर्स के अधिकारियों ने एयर नेविगेशन, एयर वॉरफेयर में काम करने वाले टैक्टिक्स, फ्लाइंग प्रोसीजर, एंटी-सबमरीन वॉरफेयर और एयरबोर्न एवियोनिक सिस्टम के शोषण को कम किया।

• सभी स्नातक अधिकारी अब भारतीय नौसेना और भारतीय तटरक्षक बल के समुद्री समुद्री टोही और पनडुब्बी रोधी युद्धक विमानों पर सवार होंगे।

 

भारतीय नौसेना के हेलीकॉप्टर स्ट्रीम में दो महिला अधिकारियों के चयन के साथ, सब लेफ्टिनेंट कुमुदिनी त्यागी और सब लेफ्टिनेंट रीति सिंह ने नीव रखी भारतीय नौसेना में महिलाओ के आधारशिला के लिए।भारतीय सशस्त्र बलों में यह उपलब्धि सिद्धि करता है भारत में समान अवसर और समान दर्जा हासिल करने की मानसिकता रखने वाले भारतीय में महिलाओं के सशक्तीकरण को बढ़ावा देने में साथ ही प्रोत्साहित करता है युवा महिलाओं को भारतीय सशस्त्र बलों में कैरियर के लिए।