national

टॉप हेडलाइंस 2 सितम्बर 2020 ब्रेकिंग न्यूज़- Defence India News

 

टॉप हेडलाइंस 2 सितम्बर 2020 ब्रेकिंग न्यूज़

1. भारत-चीन तनाव के बीच एक बार फिर रूस रवाना होंगे राजनाथ सिंह, SCO बैठक में लेंगे हिस्सा
2. भारतीय खगोलविदों ने ब्रह्मांड की सबसे दूर की नक्षत्र आकाशगंगाओं में से एक की खोज की
3. भारत ने कहा-चीन की सेना ने 29, 30 और 31 अगस्‍त को उकसाने वाली कार्रवाई की
4. संचार और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री ने फेसबुक को देश विशेष सामुदायिक, दिशा-निर्देश जारी करने के लिए पत्र लिखा
5. रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने चीन की सेना की उकसावे वाली कार्रवाई पर उच्‍चस्‍तरीय चर्चा की
6. कोविड मरीजों के स्‍वस्‍थ होने की दर करीब 77 प्रतिशत हुई

भारत-चीन तनाव के बीच एक बार फिर रूस रवाना होंगे राजनाथ सिंह, SCO बैठक में लेंगे हिस्सा


लद्दाख में भारत और चीन के बीच बॉर्डर पर तनाव की स्थिति बनी हुई है। इस बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह बुधवार को रूस के
मॉस्को के लिए रवाना होंगे। राजनाथ सिंह का ये दौरा तीन दिन का होगा। जहां पर उन्हें शंघाई कॉरपोरेशन ऑर्गनाइजेशन
(SCO) के सदस्य देशों के रक्षा मंत्रियों की बैठक में हिस्सा लेना है। इससे पहले भी राजनाथ सिंह रूस की विक्ट्री डे परेड के 75
साल पूरे होने पर जश्न में शामिल हुए थे।


अधिकारियों ने बताया कि एससीओ रक्षा मंत्रियों की बैठक में हिस्सा लेने के अलावा राजनाथ सिंह अपने रूसी समकक्ष सर्गेई
शोइगू और कई अन्य शीर्ष सैन्य अधिकारियों के साथ बातचीत करेंगे जिसका उद्देश्य कई रक्षा खरीद कार्यक्रमों में तेजी लाना है।
एससीओ रक्षा मंत्रियों की बैठक ऐसे समय हो रही है, जब इसके दो सदस्य देशों- भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख में एक
सीमा पर तनाव की स्थिति बनी हुई है। चीन के रक्षा मंत्री जनरल वेई फेंघे के एससीओ की बैठक में हिस्सा लेने की उम्मीद है।

भारतीय खगोलविदों ने ब्रह्मांड की सबसे दूर की नक्षत्र आकाशगंगाओं में से एक की खोज की


भारतीय खगोलविदों ने ब्रह्मांड की सबसे दूर की नक्षत्र आकाशगंगाओं में से एक की खोज कर एक महत्‍वपूर्ण उपलब्धि
हासिल की है। केंद्रीय मंत्री डॉक्‍टर जितेंद्र सिंह ने कहा कि यह गर्व की बात है कि भारत की पहली मल्टी-वेवलेंथ स्पेस ऑब्जर्वेटरी
एस्ट्रोसैट ने पृथ्वी से 9 दशमलव तीन अरब प्रकाश वर्ष दूर स्थित एक आकाशगंगा से चरम यू. वी. प्रकाश का पता लगाया है। इस
आकाशगंगा की खोज पुणे स्थित इंटर-यूनिवर्सिटी सेंटर फॉर एस्ट्रोनॉमी एंड एस्ट्रोफिज़िक्स के डॉक्‍टर कनक साहा के नेतृत्व में
खगोलविदों की टीम ने की है।


डॉक्‍टर जितेंद्र सिंह ने भारत के अंतरिक्ष वैज्ञानिकों को एक बार फिर यह साबित करने के लिए बधाई दी कि अंतरिक्ष
प्रौद्योगिकी में भारत को विशिष्ट स्तर की क्षमता हासिल है|

भारत ने कहा-चीन की सेना ने 29, 30 और 31 अगस्‍त को उकसाने वाली कार्रवाई की


भारत ने कहा है कि चीन की सेना ने 29, 30 और 31 अगस्‍त को उकसाने वाली कार्रवाई की, जबकि इस दौरान दोनों
देशों के बीच तनाव कम करने के लिए बातचीत जारी थी। भारत-चीन सीमा क्षेत्र में हाल के घटनाक्रम के बारे में पूछे गए सवालों
के जवाब में विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता अनुराग श्रीवास्‍तव ने बताया कि भारत ने हाल में चीन की उकसाने वाली और उत्‍तेजक
कार्रवाई के बारे में राजनयिक और सैन्‍य माध्‍यमों के जरिए चीन से बातचीत की है। उन्‍होंने बताया कि भारत ने चीन से आग्रह
किया है कि वह अपनी सेना को अनुशासित और नियंत्रित करे, ताकि वह इस प्रकार की उकसाने वाली कार्रवाई न करे। भारत
और चीन सीमा पर स्थिति को सुलझाने के लिए पिछले तीन महीने से सैन्‍य और राजनयिक माध्‍यमों से परस्‍पर बातचीत कर
रहे हैं। उनके विदेशमंत्री और विशेष प्रतिनिधि इस बात पर सहमत हुए हैं कि स्थिति को जिम्‍मेदाराना तरीके से सुलझाया जाना

चाहिए और कोई भी पक्ष उकसाने वाली कार्रवाई न करे तथा यह सुनिश्चित किया जाए कि द्विपक्षीय समझौतों और प्रोटोकॉल के
अनुरूप सीमा पर शांति बनी रहे। प्रवक्‍ता ने बताया कि इसके बावजूद चीन ने इस सहमति का उल्‍लंघन किया और 29 तथा
30 अगस्‍त को पेंगोंग झील के दक्षिण तट के क्षेत्र में यथास्थिति में बदलाव की कोशिश की। भारत ने उकसाने वाली इस कार्रवाई
का जवाब दिया और देश के हितों की सुरक्षा और क्षेत्रीय अखंडता की रक्षा के लिए वास्‍तविक नियंत्रण रेखा के पास यथोचित
रक्षात्‍मक कार्रवाई की। प्रवक्‍ता ने बताया कि कल जबकि दोनों पक्षों के ग्राउंड कमांडर बातचीत कर रहे थे, चीन की सेना ने
फिर से उकसाने वाली कार्रवाई की। भारत ने समय पर रक्षात्‍मक कार्रवाई कर यथास्थिति को बदलने की उसकी एकतरफा
कोशिशों को नाकाम कर दिया।

संचार और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री ने फेसबुक को देश विशेष सामुदायिक, दिशा-निर्देश जारी करने के लिए पत्र लिखा


केंद्रीय संचार और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म फेसबुक के संस्‍थापक और
प्रमुख से कहा है कि वे विविध विचारों के बेहतर प्रतिनिधित्‍व के लिए देश विशेष समुदाय दिशानिर्देश बनाएं। फेसबुक के मुख्‍य
कार्यकारी अधिकारी मार्क ज़करबर्ग को लिखे पत्र में उन्‍होंने 2019 के आम चुनाव में फेसबुक के रवैये पर गंभीर चिंता व्‍यक्‍त
की है।
श्री प्रसाद ने कहा है कि इस चुनाव में फेसबुक प्रबंधन ने दक्षिणपंथी विचारधारा का समर्थन करने वाले पोस्‍ट की पहुंच
कम करने और ऐसे पृष्‍ठों को हटाने का बेजा प्रयास किया था। श्री रवि शंकर ने इस सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म के पूर्वाग्रह का
जिक्र करते हुए कहा कि फेसबुक प्रबंधन ने इस मुद्दे पर सुधार के उपायों की मांग करने वाले संदेशों का जवाब तक नहीं दिया।
उन्‍होंने कहा कि अंतर्राष्‍ट्रीय मीडिया के साथ फेसबुक कर्मचारियों के एक समूह की सांठ-गांठ से निहित स्‍वार्थी तथ्‍वों
ने देश की लोकतांत्रिक प्रक्रिया को चोट पहुंचाने की कोशिश की। श्री प्रसाद ने जोर देकर कहा कि ऐसे कई उदाहरण हैं जब
सामाजिक व्‍यवस्‍था को नष्‍ट करने के एकमात्र उद्देश्‍य से अराजक और कट्टरपंथी तत्‍वों ने इस सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म का
इस्‍तेमाल किया। सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री ने, तथ्‍यों की वास्‍तविकता की जांच का काम बिना पुष्टि किए और अविश्‍वसनीय
एजेंसियों को दिए जाने का प्रचलन समाप्‍त करने की आवश्‍यकता पर भी बल दिया |

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने चीन की सेना की उकसावे वाली कार्रवाई पर उच्‍चस्‍तरीय चर्चा की


रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने आज विदेश मंत्री एस० जयशंकर, राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोवल, चीफ ऑफ
डिफेंस स्‍टॉफ बिपिन रावत, सेनाप्रमुख एम०एम० नरवणे और मिलट्री आपरेशंस के महानिदेशक के साथ एक महत्‍वपूर्ण बैठक
की।
हमारे संवाददाता ने खबर दी है कि चर्चा का केंद्रबिंदु चीन की पीपुल्‍स लिबरेशन आर्मी-पीएलए द्वारा दक्षिण पैंगोंग
इलाके में हाल की उकसावे की कार्रवाई के मद्देनजर भारत की भविष्‍य में की जाने वाली कार्य रूपरेखा रहा।
कल चुशूल में पीएलए की उकसावे वाली सैन्‍य कार्रवाई के बारे में भारतीय सेना और पीएलए के बीच ब्रिगेड स्‍तर की
फ्लैग बैठक हुई थी।
सेना ने बताया कि पीएलए सैनिकों ने पूर्वी लद्दाख में जारी गतिरोध के दौरान दोनों पक्षों के बीच बनी राजनयिक और
सैन्‍य सहमति का उल्‍लंघन किया है। पीएलए ने 29 और तीस अगस्‍त की रात में यथास्थिति बदलने की उकसावे वाली सैन्‍य
कार्रवाई की। हालांकि, भारतीय सेना ने पहले ही पीएलए की मंशा भांपते हुए जवाबी कार्रवाई की।

कोविड मरीजों के स्‍वस्‍थ होने की दर करीब 77 प्रतिशत हुई

देश में कोविड-19 के रोगियों के स्‍वस्‍थ होने की दर में और सुधार होने से यह 76 दशमलव नौ-चार प्रतिशत हो गई
है। पिछले 24 घंटे के दौरान लगभग 65 हजार से अधिक रोगी स्‍वस्‍थ हुए हैं और उन्‍हें अस्‍पताल से छुट्टी दे दी गई है।
स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने कहा है कि अब तक लगभग 28 लाख 40 हजार लोग ठीक हो चुके हैं। इस समय कुल संक्रमित लोगों में से
केवल 21 दशमलव दो-नौ प्रतिशत रोगी ही संक्रमित हैं जिनका इलाज चल रहा है। मंत्रालय ने कहा है कि स्‍वस्‍थ होने वालों की
संख्‍या अगस्‍त के आखिरी सप्‍ताह में, जुलाई के पहले सप्‍ताह के मुकाबले चार गुना अधिक हो गई है।
प्रभावी तरीके से नमूनों की जांच और रो‍गी के सम्‍पर्कों का पता लगाने तथा उपचार करने से बड़ी संख्‍या में लोग
स्‍वस्‍थ हुए हैं और मरने वालों की संख्‍या भी कम हुई है। इस समय देश में कोरोना से होने वाली मृत्‍यु दर एक दशमलव सात-
सात प्रतिशत है।


पिछले 24 घंटों के दौरान लगभग 70 हजार लोगों में इस संक्रमण की पुष्टि हुई है। इससे कुल संक्रमित लोगों की संख्‍या
36 लाख 91 हजार से अधिक हो गई है
इस दौरान पांच राज्‍यों में बड़ी संख्‍या में मामले सामने आए हैं। ये राज्‍य हैं - महाराष्‍ट्र, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक,
तमिलनाडु और उत्‍तर प्रदेश। पिछले 24 घंटों के दौरान जिन लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है उनमें से 56 प्रतिशत इन्‍हीं राज्‍यों
के हैं। इस दौरान इन्‍हीं राज्‍यों में सबसे अधिक मरीज स्‍वस्‍थ भी हुए हैं।
इस समय देश में कोरोना वायरस के लगभग सात लाख 86 हजार सक्रिय मामले हैं। पिछले 24 घंटों के दौरान आठ सौ
19 लोगों की मौत होने से मरने वालों की

READ MORE :

विघटनकारी प्रौद्योगिकियों में भारी निवेश

भारत चीनी सैनिकों के बीच एक बार फिर झड़प