national

टॉप हेडलाइंस 23 सितम्बर 2020 Breaking News- Defence India News

 

1-प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा - राष्ट्रीय शिक्षा नीति भारत को शिक्षा के वैश्विक केन्द्र के रूप में स्थापित करेगी

2-संसद में आवश्यक वस्तु संशोधन विधेयक और कम्पनी संशोधन विधेयक सहित कई महत्वपूर्ण विधेयक पारित किए

3-प्रधानमंत्री आज छह प्रमुख राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों में कोविड से निपटने के तैयारियों और प्रबंधन की समीक्षा करेंगे

4-डी.आर.डी.ओ. ने अभ्‍यास नाम के तेज रफ्तार एक्‍सपेंडेबल एरियल टारगेट यान का सफल उडान परीक्षण किया

5-विदेशमंत्री ने कहा - विश्‍व में बडे स्‍तर पर फिर से संतुलन कायम करने के प्रयास तब तक पूरे नहीं हो सकते जब तक अफ्रीकी देश वास्‍तविक रूप में इसमें शामिल न हों

6-विश्व के नंबर एक खिलाड़ी सर्बिया के नोवाक जोकोविच ने विश्व रैंकिंग में नंबर एक पर रहते हुए 287वें सप्ताह में प्रवेश कर लिया है

 

1-प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा - राष्ट्रीय शिक्षा नीति भारत को शिक्षा के वैश्विक केन्द्र के रूप में स्थापित करेगी

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा है कि राष्‍ट्रीय शिक्षा नीति भारत को वैश्विक शिक्षा केन्‍द्र के रूप में स्‍थापित करेगी और देश में नए अवसर उत्‍पन्‍न करेगी। प्रधानमंत्री ने आज वीडियो कान्‍फ्रेंस के ज़रिए आईआईटी गुवाहाटी के दीक्षान्‍त समारोह को संबोधित करते हुए आशा व्‍यक्‍त की कि युवाओं के सपनों से ही आने वाले दिनों में देश की वास्‍तविकता आकार लेगी। उन्‍होंने कहा कि राष्‍ट्रीय शिक्षा नीति का उद्देश्‍य शिक्षा को प्रौद्योगिकी से जोड़ना है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि इस नीति के तहत राष्‍ट्रीय प्रौद्योगिकी शिक्षा नीति मंच स्‍थापित किया जा रहा है। श्री मोदी ने कहा कि शोध के लिए राष्‍ट्रीय शिक्षा नीति में पर्याप्‍त प्रावधान किए गए हैं। इसके लिए धन उपलब्ध कराने की भी व्‍यवस्‍था की गई है। श्री मोदी ने आज तीन सौ विद्यार्थियों को पी. एच. डी. डिग्री दिए जाने की सराहना की। काविड-19 महामारी से निपटने में आईआईटी गुवाहाटी की भूमिका की सराहना करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि यह संस्‍थान क्षेत्र में बाढ़ और भूस्‍खलन से निपटने तथा अनुसंधान के ज़रिए स्‍थानीय संसाधनों को बढ़ावा देने में मदद करेगा। श्री मोदी ने आशा व्‍यक्‍त की कि यह संस्‍थान भारतीय ज्ञान संस्‍थान तथा आपदा प्रबंधन और जोखिम उन्‍नमूलन केन्‍द्र की स्‍थापना में भूमिका निभाएगा। उन्‍होंने कहा कि असम और पूर्वोत्‍तर क्षेत्र में अपार संभावनाएं और संसाधन हैं। इस अवसर पर असम के मुख्‍यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने कोविड महामारी से लड़ाई में आईआईटी गुवाहाटी की भूमिका की सराहना की। उन्‍होंने कहा कि इस संस्‍थान से राज्‍य को आपदा प्रबंधन और जोखिम कम करने में मदद मिली है। केन्‍द्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि राष्‍ट्र निर्माण में आईआईटी गुवाहाटी ने महत्‍वपूर्ण निभाई है। उन्‍होंने विद्यार्थियों से भावी चुनौतियों के लिए तैयार रहने का आग्रह किया।

 

2-संसद में आवश्यक वस्तु संशोधन विधेयक और कम्पनी संशोधन विधेयक सहित कई महत्वपूर्ण विधेयक पारित किए

संसद ने आवश्‍यक वस्‍तु संशोधन विधेयक-2020 पारित कर दिया है। राज्‍यसभा ने आज इस विधेयक को मंजूरी दी जबकि लोकसभा से ये पहले ही पारित हो चुका है। इस विधेयक में केन्‍द्र सरकार को केवल युद्ध और अकाल जैसी असाधारण परिस्थितियों में ही कुछ खाद्य वस्‍तुओं की आपूर्ति को विनियमित करने की अनुमति दी गई है। यह कानून इस वर्ष जून में लागू आवश्‍यक वस्‍तु संशोधन अध्‍यादेश-2020 का स्‍थान लेगा।

सदन में विधेयक पर चर्चा का जवाब देते हुए उपभोक्‍ता कार्य, खाद्य और सार्वजनिक वितरण राज्‍यमंत्री दानवे राव साहिब दादाराव ने इस विधेयक को महत्‍वपूर्ण बताते हुए कहा कि इससे स्‍थानीय उत्‍पादों को प्रोत्‍साहन मिलेगा। उन्‍होंने कहा कि इससे किसानों को अपनी पसंद के अनुसार उपज बेचने की आज़ादी मिलेगी। चर्चा में भाग लेते हुए बीजू जनता दल के अमर पटनायक ने कहा कि इस विधेयक में कई ऐसे प्रावधान किए गए हैं जिनसे पूरी व्‍यवस्‍था को ज्‍यादा स्थिर रूप दिया जा सकेगा। भाजपा के गोपाल नारायण सिंह ने कहा कि सरकार ने किसानों के कल्‍याण के लिए कई कदम उठाए हैं। संसद ने कंपनी (संशोधन) विधेयक 2020 पारित कर दिया। राज्‍यसभा ने आज इस विधेयक को मंजूरी दी जबकि लोकसभा इसे पहले ही पारित कर चुकी है। इस विधेयक में कानून के उल्‍लंघन से जुड़े कुछ अपराधों के लिए जुर्माने और सजा को हटा दिया गया है। कुछ अपराधों के लिए जुर्माने की राशि भी घटाई गई है। इससे केन्‍द्र सरकार को कुछ श्रेणियों की सार्वजनिक कंपनियों को विदेशी क्षेत्राधिकार में प्रतिभूतियों की श्रेणी में सूचीबद्ध करने की अनुमति मिल गई है। विधेयक पर चर्चा का जवाब देते हुए वित्‍तमंत्री निर्मला सीतारामन ने कहा कि इस तरह के संशोधन की लंबे समय से जरूरत महसूस की जा रही थी। उन्‍होंने कहा कि सरकार दस हजार किसान उत्‍पादक संगठन बनाने की योजना तैयार कर रही है। वित्‍तमंत्री ने कहा कि कंपनियों के काम-काज को बेहतर बनाने के लिए दंड के प्रावधान को कम किया गया है

 

3-प्रधानमंत्री आज छह प्रमुख राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों में कोविड से निपटने के तैयारियों और प्रबंधन की समीक्षा करेंगे

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी आज अधिक कोविड मरीज़ों वाले सात राज्‍यों और केन्‍द्रशासित प्रदेश के मुख्‍यमंत्रियों और स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रियों के साथ उच्‍च स्‍तरीय बैठक की अध्‍यक्षता करेंगे। बैठक के दौरान इन सात राज्‍यों और केन्‍द्रशासित प्रदेश में कोविड महामारी से निपटने और उसके प्रबंधन की स्थिति तथा तैयारियों की समीक्षा की जाएगी। देश में इस समय इलाज करा रहे 63 प्रतिशत से अधिक कोविड मरीज़ इन छह राज्‍यों और एक केन्‍द्रशासित प्रदेश में हैं। ये हैं- महाराष्‍ट्र, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, उत्‍तर प्रदेश, तमिलनाडु, दिल्‍ली और पंजाब। देश के कुल संक्रमित लोगों में से 65 दशमलव पांच प्रतिशत और कोविड से मृत्‍यु की दर का 70 प्रतिशत इन्‍हीं राज्‍यों और केन्‍द्रशासित प्रदेश में हैं। पांच राज्‍यों के साथ पंजाब और दिल्‍ली में हाल ही में संक्रमित लोगों की संख्‍या बढ़ रही है। महाराष्‍ट्र, पंजाब और दिल्‍ली में मृत्‍यु दर दो प्रतिशत से भी अधिक है। पंजाब और उत्‍तर प्रदेश के अलावा बाकी चार राज्‍यों और एक केन्‍द्रशासित प्रदेश में संक्रमण की दर राष्‍ट्रीय औसत आठ दशमलव पांच दो प्रतिशत से अधिक है। केन्‍द्र सरकार राज्‍यों और केन्‍द्र शासित प्रदेशों के साथ प्रभावी सहयोग और निकट समन्‍वय में कोविड-19 महामारी से लड़ाई का नेतृत्‍व कर रही है। इस महामारी से निपटने के लिए स्‍वास्‍थ्‍य देखभाल और चिकित्‍सा संबंधी बुनियादी ढांचे में सुधार के लिए केन्‍द्र सहायता दे रहा है। नई दिल्‍ली में एम्‍स के सहयोग से स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण मंत्रालय टेली-परामर्श के ज़रिये आईसीयू में तैनात डॉक्‍टरों की क्षमताएं बढ़ा रहा है।

 

4-डी.आर.डी.ओ. ने अभ्‍यास नाम के तेज रफ्तार एक्‍सपेंडेबल एरियल टारगेट यान का सफल उडान परीक्षण किया

रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन--डी.आर.डी.ओ. ने आज अभ्‍यास नाम के तेज रफ्तार एक्‍सपेंडेबल एरियल टारगेट यान का सफल उडान परीक्षण किया। ओडिसा में बालेश्‍वर के अंतरिम परीक्षण केंद्र में किए गए इस परीक्षण के दौरान दो परीक्षण यानों को सफलतापूर्वक उडाया गया जिनका उपयोग विभिन्‍न मिसाइल प्रणालियों की क्षमताओं के आकलन के लिए लक्ष्‍य के रूप में किया जाता है। अभ्‍यास यान का डिजाइन और निर्माण डी.आर.डी.ओ. के वैमानिक विकास प्रतिष्‍ठान ने किया है। परीक्षण के दौरान यह यान सभी मानकों पर खरा उतरा और इसकी सभी प्रणालियों ने सुचारू रूप से कार्य किया।

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि अभ्‍यास नाम के तेज रफ्तार एक्‍सपेंडेबल एरियल टारगेट यान का सफल परीक्षण डी०आर०डी०ओ० की बहुत बडी उपलब्धि है। एक टवीट संदेश में उन्‍होंने इसके लिए डी०आर०डी०ओ० और इस परियोजना से जुडे अन्‍य संगठनों को बधाई दी है। उन्‍होंने कहा है कि अभ्‍यास का इस्‍तेमाल मिसाइल प्रणालियों की क्षमता के आकलन में लक्ष्‍य के रूप में किया जा सकता है।

 

5-विदेशमंत्री ने कहा - विश्‍व में बडे स्‍तर पर फिर से संतुलन कायम करने के प्रयास तब तक पूरे नहीं हो सकते जब तक अफ्रीकी देश वास्‍तविक रूप में इसमें शामिल न हों

अफ्रीका महाद्वीप के देशों की विकास यात्रा के प्रति भारत की वचनबद्धता को रेखांकित करते हुए विदेशमंत्री एस० जयशंकर ने आज कहा है कि विश्‍व में बडे स्‍तर पर फिर से संतुलन कायम करने के प्रयास तब तक पूरे नहीं हो सकते जब तक अफ्रीकी देश वास्‍तविक रूप में इसमें शामिल न हों। भारत-‍अफ्रीका साझेदारी सम्‍मेलन को संबोधित करते हुए डॉ. जयशंकर ने कहा कि अफ्रीका के सही अर्थों में विकसित होने पर ही विश्‍व की सामरिक विविधता पूरी तरह सामने आ पाएगी। उन्‍होंने कहा कि भारत, समसामयिक विश्‍व में अफ्रीका महाद्वीप के उभरकर सामने आने और उच्‍च स्थिति प्राप्‍त करने का स्‍वागत करता है। उन्‍होंने कहा कि कोरोना महामारी ने तीन करोड दस लाख से अधिक लोगों पर अपना असर डाला है और दुनियाभर में अब तक नौ लाख साठ हजार से अधिक लोग इससे मौत का शिकार हुए हैं। विदेशमंत्री ने कहा कि कोरोना की वजह से संयुक्‍त राष्‍ट्र के सतत विकास लक्ष्‍यों को प्राप्‍त करने पर भी बुरा असर पडा है। उन्‍होंने कहा कि भारत, अफ्रीकी देशों को उनकी अपनी प्राथमिकताओं के अनुसार मदद देने को वचनबद्ध है। डॉ. जयशंकर ने कहा कि भारत ने 37 अफ्रीकी देशों में 11 अरब साठ करोड डॉलर लागत की 194 विकास परियोजनाएं पूरी की हैं और इस समय 29 देशों में 77 परियोजनाओं का कार्य चल रहा है।

 

6-विश्व के नंबर एक खिलाड़ी सर्बिया के नोवाक जोकोविच ने विश्व रैंकिंग में नंबर एक पर रहते हुए 287वें सप्ताह में प्रवेश कर लिया है

विश्व के नंबर एक खिलाड़ी सर्बिया के नोवाक जोकोविच ने इटालियन ओपन खिताब जीतने के बाद विश्व रैंकिंग में नंबर एक पर रहते हुए 287वें सप्ताह में प्रवेश कर लिया है और इसके साथ ही उन्होंने अपने आदर्श अमरीका के पीट सम्प्रास को पीछे छोड़ दिया। पांचवीं बार इटालियन ओपन चैंपियन बने जोकोविच का नंबर एक पॉजिशन पर यह 287वां  सप्ताह है। उन्होंने सम्प्रास के 286 सप्ताह नंबर एक पर रहने के कीर्तिमान को पीछे छोड़ा और इस क्रम में वह दूसरे स्थान पर पहुंच गए। स्विटजरलैंड के रोजर फेडरर के नाम सर्वाधिक 310 सप्ताह नंबर वन पर रहने का रिकॉर्ड है। इस क्रम में अमेरिका के इवान लेंडल 270 सप्ताह के साथ चौथे स्थान पर और अमेरिका के जिमी कोनर्स 268 सप्ताह के साथ पांचवें नंबर पर हैं। 29 वर्षीय जोकोविच के इस जीत के बाद 11 हजार 260 अंक हो गए हैं। जोकोविच और दूसरे स्थान पर मौजूद स्पेन के राफेल नडाल के बीच 1 हजार 410 अंकों का फासला हो गया है। पुरुष सिंगल्‍स रैंकिंग में शीर्ष नौ स्थानों पर कोई बदलाव नहीं है जबकि कनाडा के डेनिस शापोवालोव ने चार स्थान के सुधार के साथ टॉप 10 में प्रवेश करते हुए नंबर 10 पर जगह बना ली है। फाइनल में जोकोविच से हारने वाले अर्जेंटीना के डिएगो श्वार्ट्जमैन दो स्थान के सुधार के साथ 13वें नंबर पर पहुंच गए हैं।