national

टॉप हेडलाइंस 22 सितम्बर 2020 Breaking News- Defence India News

 

1-तकिया, चद्दर लेकर रात में भी संसद परिसर में डटे निलंबित किए गए विपक्षी सांसद, गा रहे हैं गाना I धरना स्थल पर तकिया और कंबल लेकर बैठे सांसदों ने कहा, हम झुकेंगे नहीं |

3-राज्‍यसभा के उपसभापति के प्रति विपक्षी सदस्‍यों का व्‍यवहार संसदीय लोकतंत्र की प्रतिष्‍ठा का अनादर: केंद्रीय मंत्री

4-संसद ने विदेशी अंशदान नियमन संशोधन विधेयक 2020 को मंजूरी दी

5-सरकार ने रबी फसल का न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाया

6-भारत और मालदीव के बीच सीधी कार्गो ई-फेरी सेवा शुरू

7-पाकिस्‍तान में इमरान खान सरकार को हटाने के लिए आज गठबंधन को अंतिम रूप दिया गया

8-आई. पी. एल. का तीसरा मैच सनराइजर्स हैदराबाद और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू के बीच दुबई में खेला जा रहा है

 

1-तकिया, चद्दर लेकर रात में भी संसद परिसर में डटे निलंबित किए गए विपक्षी सांसद, गा रहे हैं गाना

आठ राज्यसभा सांसदों के निलंबन को लेकर विपक्षी दलों ने सोमवार को सरकार पर निशाना साधा वहीं आठ राज्यसभा सांसदों के निलंबन के बाद ये सभी सांसद संसद में गांधी प्रतिमा के आगे धरना दे रहे हैं, इनका कहना है कि वो पूरी रात धरना देंगे और तब तक धरना देंगे जब तक निलंबन वापस नहीं लिया जाता उधर गुलाम नबी आजाद का कहना है कि किसी ने भी राज्यसभा के उपसभापति को हाथ भी नहीं लगाया।

उच्च सदन में कृषि संबंधी विधेयकों को पारित किए जाने के दौरान ;अमर्यादित व्यवहार; के कारण इन सदस्यों को शेष सत्र के लिए निलंबित किया गया है वहीं निलंबित तृणमूल कांग्रेस सांसद डोला सेन ने संसद परिसर में एक गीत गाया। विपक्षी दलों ने रविवार को राज्यसभा में हुए हंगामे के चलते सोमवार को आठ विपक्षी सदस्यों को निलंबित किए जाने को लेकर सरकार पर हमला बोला तथा इस कदम के विरोध में वे संसद भवन परिसर में अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन कर रहे हैं।निलंबित किए गए आठ सांसदों में कांग्रेस, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी , तृणमूल कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के सदस्य शामिल हैं।

धरना स्थल पर तकिया और कंबल लेकर बैठे सांसदों ने कहा, हम झुकेंगे नहीं | वहीं माकपा नेता इलामारम करीम ने कहा, 'निलंबन से हमारी आवाज को दबाया नहीं जा सकता। हम किसानों के साथ उनकी लड़ाई में साथ रहेंगे। उपसभापति ने कल संसदीय प्रक्रियाओं का गला घोंटा है। सांसदों के निलंबन ने भाजपा के कायर चेहरे को उजागर कर दिया है।

 

2-राज्‍यसभा के उपसभापति के प्रति विपक्षी सदस्‍यों का व्‍यवहार संसदीय लोकतंत्र की प्रतिष्‍ठा का अनादर: केंद्रीय मंत्री

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने राज्‍यसभा के उपसभापति हरिवंश के प्रति विपक्षी सदस्‍यों के व्‍यवहार को शर्मनाक, गैर-जिम्‍मेदाराना और संसदीय लोकतंत्र की प्रतिष्‍ठा का अनादर बताया है। नई दिल्‍ली में संवाददाता सम्‍मेलन में उन्‍होंने आरोप लगाया कि विपक्ष का एजेंडा कल राज्‍यसभा में कृषि विधेयक पारित नहीं होने देना था। श्री प्रसाद ने कहा कि सदन में उपस्थित एक सौ दस सदस्‍य इसके पक्ष में थे, जबकि केवल 72 सदस्‍य इसका विरोध कर रहे थे। श्री प्रसाद ने कहा कि उपसभापति ने विपक्षी सदस्‍यों से अपने आसन पर वापस जाने के लिए 13 बार अपील की थी, लेकिन उन्‍होंने इसे अनसुना कर दिया। उन्‍होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए किसानों के मुद्दे पर दोहरे मापदंड अपनाने का आरोप लगाया। उन्‍होंने कहा कि किसानों के मुद्दे पर कांग्रेस का रवैया दिखावटी और राजनीति से प्रेरित है।

 

3-संसद ने विदेशी अंशदान नियमन संशोधन विधेयक 2020 को मंजूरी दी

संसद ने विदेशी अंशदान नियमन संशोधन विधेयक, 2020 को मंजूरी दे दी है। इसे आज लोकसभा ने ध्‍वनिमत से पारित कर दिया। राज्‍यसभा इसे पहले ही मंजूर कर चुकी है। लोकसभा में विधेयक पर चर्चा के बाद अपने जवाब में केंद्रीय गृह राज्‍य मंत्री नित्‍यानंद राय ने कहा कि विधेयक में यह सुनिश्चित करने का प्रावधान किया गया है कि विदेशी निधि का इस्‍तेमाल देश के सामाजिक ताने-बाने या आंतरिक सुरक्षा को बिगाड़ने में न किया जा सके। उन्‍होंने कहा कि इस प्रावधान से विदेशी अंशदान के लेन-देन और इसके इस्‍तेमाल में पारदर्शिता आएगी।

विधेयक मे विदेशी अंशदान नियामक अधिनियम, 2010 में संशोधन किया गया है जो देश में व्यक्तियों, संगठनों, गैर सरकारी संगठनों और कंपनियों द्वारा विदेशी अंशदान की स्वीकृति और उपयोग को नियमित करने के बारे में है। विधेयक में लोक सेवकों को किसी भी विदेशी अंशदान को स्वीकार करने के लिए निषिद्ध संस्थाओं की सूची में शामिल करने का भी प्रावधान किया गया है। इस सूची में कई चुनाव के उम्मीदवार, समाचार पत्रों के संपादक या प्रकाशक, न्यायाधीश, सरकारी कर्मचारी, किसी भी विधायिका के सदस्य, राजनीतिक दल और अन्य पहले से ही शामिल हैं। इस विधेयक में, देश में किसी भी संस्था द्वारा प्राप्‍त विदेशी अंशदान को किसी व्यक्ति, संघ या कंपनी को अंतरित करने पर रोक का प्रावधान किया गया है।

कांग्रेस के एंटो एंटनी तथा तरूण गोगोई और तृणमूल कांग्रेस के सौगत राय तथा महुआ मोइत्रा ने विधेयक का विरोध किया। उन्‍होंने मांग की कि इसे और विचार-विमर्श के लिए स्‍थायी समिति को भेजा जाए। बीजू जनता दल, जनता दल यूनाइटेट और कई अन्‍य राजनीतिक दलों ने विधेयक का समर्थन किया।

 

4-सरकार ने रबी फसल का न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाया

सरकार ने छह रबी फसलों का न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य बढ़ा दिया है। कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने लोकसभा में एक बयान में जानकारी दी कि आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने गेहूं, चना, मसूर, सरसों, ज्‍वार और कुसुम फसलों के न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य में वृद्धि को मंजूरी दी है। गेहूं के समर्थन मूल्‍य में 50 रुपये की वृद्धि कर इसकी कीमत एक हजार नौ 75 रुपये प्रति क्विंटल कर दी गई है। मसूर के समर्थन मूल्‍य में प्रति क्विंटल तीन सौ रुपये, सरसों तथा चना के लिए दो सौ 25 रुपये, ज्‍वार के लिए 75 रुपये, जबकि कुसुम के समर्थन मूल्‍य में प्रति क्विंटल एक सौ 12 रुपये की बढ़ोतरी की गई है। श्री तोमर ने बताया कि सरकार ने पिछले छह वर्षों में सरकारी खरीद के लिए किसानों के लिए लगभग सात लाख करोड़ रुपये की राशि मंजूरी की है। यह यूपीए सरकार के दस साल के शासनकाल के दौरान किसानों के लिए स्‍वीकृत राशि से लगभग दोगुना है। उन्‍होंने बताया कि न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य में यह वृद्धि, इसके और सरकारी खरीद की गारंटी के प्रति सरकार की प्रतिबद्धता को दर्शाती है। उन्‍होंने फिर कहा कि संसद में पारित हाल के कृषि विधेयकों का, न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य या कृषि उत्‍पाद वितरण समिति अधिनियम के प्रावधानों पर कोई विपरित प्रभाव नहीं पड़ेगा। श्री तोमर ने किसानों से अपील की कि वे विपक्षी दलों की भ्रमित करने वाली या झूठी राजनीतिक पैंतरेबाजी से गुमराह न हों।

 

5-भारत और मालदीव के बीच सीधी कार्गो ई-फेरी सेवा शुरू

केन्‍द्रीय जहाजरानी मंत्री मनसुख मंडाविया और मालदीव के परिवहन और नागरिक उड्डयन मंत्री सुश्री ऐशथ नाहुला ने आज संयुक्त रूप से भारत और मालदीव के बीच सीधी कार्गो ई-फेरी सेवा की शुरूआत की। अपनी पहली यात्रा के दौरान, दो सौ टीईयू और तीन हजार मीट्रिक टन के ब्रेक बल्क कार्गो की क्षमता वाला एक जलपोत तूतीकोरिन से आज कोच्चि जाएगा, जहां से यह उत्तरी मालदीव में कुलहुधुफ्फुशी बंदरगाह और फिर माले बंदरगाह तक जाएगा। यह शनिवार को कुलहुधुफ्फुशी और 29 सितम्‍बर को माले पहुंचेगा। भारतीय नौवहन निगम द्वारा संचालित की जा रही यह फेरी सेवा महीने में दो बार चलेगी तथा भारत और मालदीव के बीच माल ढुलाई का किफ़ायती और वैकल्पिक साधन होगा। इस अवसर पर श्री मंडाविया ने कहा कि यह सेवा भारत और मालदीव के बीच व्यापक द्विपक्षीय संबंधों में एक और मील का पत्थर है। मालदीव के परिवहन और नागरिक उड्डयन मंत्री सुश्री ऐशथ नाहुला ने दोनों देशों के बीच मित्रता और सहयोग के प्रगाढ़ संबंधों को प्रतिबिंबित करते हुए फेरी सेवा शुरू करने के लिए सराहना की। इस सेवा का शुभारंभ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा पिछले साल जून में अपनी मालदीव यात्रा के दौरान की गई प्रतिबद्धता तथा विदेश मंत्री डॉक्‍टर एस जयशंकर द्वारा पिछले महीने की 13 तारीख को मालदीव के विदेश मंत्री के साथ अपनी वर्चुअल मुलाकात के दौरान की गई घोषणा को पूरा करता है।

 

6-पाकिस्‍तान में इमरान खान सरकार को हटाने के लिए आज गठबंधन को अंतिम रूप दिया गया

पाकिस्‍तान के मुख्‍य विपक्षी दलों ने इमरान खान सरकार को हटाने के लिए आज एक गठबंधन को अंतिम रूप दिया। इन दलों का मानना है कि इमरान सरकार सेना के प्रभाव के कारण चुनाव में की गई धांधली के बाद सत्‍ता में आई है। विपक्षी दलों के नेताओं ने पाकिस्‍तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट नाम के गठबंधन के अंतर्गत सरकार के खिलाफ इस साल अक्‍तूबर से तीन चरणों वाले सरकार विरोधी आंदोलन करने का फैसला किया है। इस दौरान वहां सभाओं के अलावा प्रदर्शन किए जाएंगे। दिसम्‍बर में रैलियों का आयोजन किया जाएगा और जनवरी 2021 में इस्‍लामाबाद की ओर निर्णायक कूच किया जाएगा। विपक्ष ने कहा है कि इमरान खान को सत्‍ता से हटाने के लिए संसद में अविश्‍वास प्रस्‍ताव, सांसदों के सामूहिक त्‍यागपत्रों के अलावा सभी लोकतांत्रिक और राजनीतिक उपाए किए जाएंगे।

 

7-आई. पी. एल. का तीसरा मैच सनराइजर्स हैदराबाद और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू के बीच दुबई में खेला जा रहा है

आई. पी. एल. का तीसरा मैच सनराइजर्स हैदराबाद और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू के बीच दुबई में खेला जा रहा है। सनराइजर्स हैदराबाद ने टॉस जीत कर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। ताजा समाचार मिलने तक आर. सी. बी. ने नौ ओवर में बिना किसी नुकसान के 75 रन बना लिए है। कल शाम शारजाह में राजस्थान रॉयल्स का सामना चेन्नई सुपर किंग्स से होगा |